Wednesday, May 25, 2022
HomeHealthHiccups: हिचकी के प्राकृतिक एवं घरेलू उपचार

Hiccups: हिचकी के प्राकृतिक एवं घरेलू उपचार

हिचकी शुरू होने पर क्या करे। हिचकी के प्राकृतिक एवं घरेलू उपचार

Hichki Kyu Aati Hai Bar Bar: व्यक्ति के डायफ्राम में सिकुड़न होने पर हिचकियां (Hichki) शुरू होती हैं मसाले खाने या कंठ में अटक जाने के कारण उठने वाली वायु ऊपर की ओर उठती है जो हिचकी के रूप में प्रकट होती है। कभी-कभी हिचकी को दूसरे रूप में भी देखा जाता है कि कोई आपको कहीं दूर स्थान से याद कर रहा है तो शायद आपको हिचकी आ सकती है पर इसका कोई से कोई प्रमाण अभी मौजूद नहीं है।

हिचकी के प्राकृतिक एवं घरेलू उपचार hichki kyu aati hai bar barichki kyu aati hai bar bar

नारियल का पानी पीने से हिचकी रुक जाती है।

अदरक के रस में शहद मिलाकर चाटने से हिचकी रुक जाती है।

सुखी काली मिर्च तथा धनिया के कुछ दाने मुंह में रख कर उसे चूसे हिचकी आनी बंद हो जाएगी।

थोड़ी सी हींग पानी में घोलकर पीने से इसमें काफी लाभ होता है और हिचकी में आराम मिलता है।

2 लॉन्ग मुंह में रखकर उसे चबाते हुए चूसे जिससे आपकी हिचकी रुक जाएगी।

एक चम्मच घी में चुटकी भर सेंधा नमक डालकर सुघने से हिचकी आनी बंद हो जाती है।

हिचकी शुरू हुई तो बर्फ क्यूब को मुंह में रखकर चूसने से हिचकी चली जाएगी।

गर्मी के मौसम में नींबू तथा बर्फ डालकर एक गिलास गन्ने का रस पी ए इसे आप की हिचकी में आराम मिलेगा।

हिचकी के आयुर्वेदिक उपचार

धनिया 10 ग्राम सौंफ 10 ग्राम, काला नमक 5 ग्राम, सेंधा नमक 5 ग्राम काली मिर्च 10 दाने इन सब को पीसकर चूर्ण बना लें हिचकी आने पर इस चूर्ण को दो चुटकी ताजे पानी या शहद के साथ सेवन करें इससे आपको आराम मिलेगा।

बकरी के दूध में एक चम्मच सोंठ का चूर्ण मिलाकर पिए इसे आप की हिचकी तुरंत चली जाएगी।

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments